NCERT Solutions for Class 7 Hindi Durva Chapter 6

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Durva Chapter 6 – गारो (Garo) – संकलित (Sankalit ) 

पाठ संबंधी प्रश्न

1. पाठ के आधार पर गारो जनजाति के बारे में कुछ पंक्तियां लिखो।

उत्तर:- गारो जनजाति मेघालय की एक प्रमुख जनजाति है। गारो लोगों के पूर्वज हजारों साल पहले चीन और तिब्बत की सुदूर घाटियों में इधर-उधर भटकते रहते थे और खानाबदोश जीवन व्यतीत करते थे। भोजन की तलाश में भटकने के अतिरिक्त गारो लोगों को विषम मौसम और जंगली जानवरों का भी सामना करना पड़ता था। गारो समाज के दो महापुरुषों ने उनका नेतृत्व किया और गारो लोग मेघालय में आ बसे। गारो लोग स्वभाव से शांतिप्रिय, परिश्रमी और प्रकृति को प्यारप्रेमी होते है।

2. गारो लोग एक स्थान पर क्यों बस जाना चाहते थे?

उत्तर:- गारो लोग खानाबदोश जीवन जीते थे। वे भोजन की तलाश में इधर-उधर भटकते रहते थे। भोजन की तलाश में भटकने के अतिरिक्त गारो लोगों को विषम मौसम और जंगली जानवरों का सामना करना पड़ता था, जिससे इस जनजाति के लोगों को बहुत परेशानी उठानी पड़ती थी। इसी कारण गारो लोग एक स्थान पर बस जाना चाहते थे।

3. जा पा जलिन पा और सुक पा बुंगि पा का नाम आदर से क्यों लिया जाता है?

उत्तर:- हज़ारों वर्ष पूर्व गारो लोगों के पूर्वज चीन और तिब्बत की और सुदूर घाटियों में इधर-उधर भटकते रहते थे और खानाबदोश जीवन जीते थे। भोजन की तलाश में भटकते हुए उन्हें कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था। अपने लोगों की परेशानी देखकर गारो समाज के इन दो महापुरुषों ने सभी को एकत्रित किया और उनका नेतृत्व करते हुए, उन्हें मेघालय जैसी सुंदर जगह लाकर बसाया। इन दोनों महापुरुषों ने गारो जनजाति को एक सभ्य जीवन दिया और इसीलिए ‌गारो समाज में जा पा जलिन पा और सुक पा बुंगि पा का नाम आदर से लिया जाता था।




NCERT Solutions for Class 7 Hindi Durva Chapter 6 – सोचो और जवाब दो

1. जंगलों से हमें कौन-कौन सी चीज़ें प्राप्त होती हैं?

उत्तर:- जंगलों से हमें निम्नलिखित चीजें प्राप्त होती है-

  • फल-फूल
  • औषधियां
  • कागज
  • रबर
  • लकड़ियां

2. गारो पहाड़ किस प्रदेश में हैं? मानचित्र पर उस प्रदेश का नाम लिखो।

उत्तर:- गारो पहाड़ मेघालय में स्थित है।

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Durva Chapter 6 – कुछ यह भी करो

1. अपने प्रदेश या किसी अन्य राज्य की किसी जनजाति के बारे में पता करो। उसके बारे में अपनी कक्षा में बताओ।

उत्तर:- लंबाणी (या बंजारा) नामक जनजाति दक्षिण भारत की प्रसिद्ध जनजाति है।यह जनजाति आन्ध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और उत्तर कर्नाटक के निवासी है। उनकी भाषा की उत्पत्ति राजस्थान में हुआ था। पहले लम्बाणी जनजाति के लोग अनाज उगाते थे और सेनाओ को बेजते थे। अंग्रेजों के समय में राजस्थान से आकर ये लोग उत्तर भारत में बसने लगे। आज ये लोग कर्नाटक में भी बसे हुए हैं। तेलंगाना में इनको “लम्बाड़ी”, “बंजारा” और आंध्र प्रदेश में “सुगाली” भी कहते हैं। प्राचीन काल में बंजारा जाति के लोग बहुत धनी हुआ करते थे और इन लोगों सम्पूर्ण विश्व का ज्ञान प्राप्त था। जब इन्टरनेट नहीं था, तब बंजारा जाति के लोग ही गूगल मैप का कार्य करते थे।

2. यह पाठ एक लोककथा पर आधारित है। अगर तुमने भी कभी कोई लोककथा सुनी है तो लोककथा और सामान्य कहानी के बारे में अपनी कक्षा में चर्चा करो।

उत्तर:- लोककथा और सामान्य कहानी में प्रमुख अंतर यह होता है कि लोककथा किसी सत्य कहानी पर आधारित होती है, जबकि सामान्य कहानी काल्पनिक होती है। लोककथा एक प्रदेश-विशेष या जाति-विशेष में लोकप्रिय होती है, वहीं कहानियों की लोकप्रियता उनकी सफलता पर निर्भर करती है। लोककथाएं हमारी संस्कृति की अमूल्य धरोहर है। लोककथाएं लोगों के मन में जिंदा रहती हैं और मौखिक रूप से पीढ़ी-दर-पीढ़ी बढ़ती रहती हैं, वही कहानियां किताबों के माध्यम से जीवित रहती है।




3. गारो लोगों ने बहुत लंबी यात्रा की थी। यदि तुमने भी कोई लंबी यात्रा की हो तो अपनी यात्रा के बारे में लिखो।

उत्तर:- मैं भी पिछले वर्ष गर्मियों की छुट्टियों में शिमला गया था। मैं और मेरा परिवार शाम की बस से शिमला गए। पहाड़ों में बना रास्ता हमें डरा रहा था। हमने रास्ते में घर का बना खाना खाया, मनोरंजन के लिए गीत गाए और प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद उठाया। हम रात के नौ बजे शिमला पहुंचे।  होटल जाकर हमने विश्राम किया और अगले दिन से घूमना शुरू करने ही सही समझा। अगले दिन सवेरे-सवेरे ही हम सब तैयार होकर जाखू मंदिर में हनुमान जी के दर्शन करने चल दिए। हमारे वहां पहुंचने तक हल्की-हल्की बारिश होने लगी, जिसने ठंडे मौसम को और अधिक ठंडा कर दिया था। हम उस दिन शाम को कुफरी के लिए निकल गए जहाँ पर बर्फ पड़ रही थी और माल रोड पर घूमे, जिसकी शोभा रात के समय में दौगुनी हो जाती है। अगले दिन हमने स्कींग का आनंद लिया, चिड़ियाघर देखा और बर्फ में खूब खेले। उसके बाद हम शिमला वापिस आए और वहां की संस्कृति और संग्रहालय देखा। अगले दिन हम अपने मन में ढेर सारी अच्छी-अच्छी यादें लेकर वापस घर के लिए चल दिए। वहां हमारा इतना मन लगा कि समय कब निकल गया, पता ही नहीं चला।

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Durva Chapter 6 – बार-बार बोलो

वर्षों तक इस प्रकार यात्रा होती रही।
वर्षों तक इस प्रकार यात्रा होती ही रही।

नीचे लिखे वाक्यों में सही जगह पर ‘ही’ लगाकर बोलो-

  • सुधा सुबह तक पढ़ती रही
  • यह पंखा हमेशा आवाज़ करता रहता है।
  • गारो लोगों का खानाबदोश जीवन कई सालों तक चलता रहता।
  • सुशील थककर सो गया।
  • दो घंटे बाद बस चल पड़ी।

उत्तर:-

  • सुधा सुबह तक पढ़ती ही रही।
  • यह पंखा हमेशा आवाज़ ही करता रहता है।
  • गारो लोगों का खानाबदोश जीवन कई सालों तक चलता ही रहा।
  • सुशील थककर सो ही गया।
  • दो घंटे बाद ही बस चल पड़ी।

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Durva Chapter 6 – सही-सही

नीचे लिखे शब्दों में सही अक्षर भरो-

  1. वि…य – विनय
  2. सा…सी – साहसी
  3. आकर्……क – आकर्षक
  4. पुरु… – पुरुष
  5. ..…`ष – द्वेष
  6. वि… – विष
  7. वि…..म – विराम
  8. …..त्रु – शत्रु
  9. …..टकोण – षटकोण
  10. व….र्आ – वर्षा
  11. वर्…. – वर्ग
  12. …..मुद्र – समुद्र
  13. ….हज – सहज

इन शब्दों की रचना देखो

सामाजिक, पारंपरिक।
यह शब्द इक (तद्धित) प्रत्यय लगाकर बनाए गए हैं इसी प्रकार इक प्रत्यय लगाकर पांच शब्द बनाओ।

उत्तर:-

  1. वार्षिक
  2. साप्ताहिक
  3. नैतिक
  4. धार्मिक
  5. आर्थिक
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

Leave a Comment