NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 7

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 7 – साथी हाथ बढ़ाना (Sathi Hath Badhana) – साहिर लुधियानवी

गीत से

1. इस गीत की किन पंक्तियों को तुम अपने आसपास की ज़िंदगी में घटते हुए देख सकते हो?

उत्तर:- इस गीत की निम्नलिखित पंक्तियों को हम अपने आसपास की ज़िंदगी में घटते हुए देख सकते हैं-

साथी हाथ बढ़ाना

एक अकेला थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना।

साथी हाथ बढ़ाना।

हम मेहनतवालों ने जब भी, मिलकर कदम बढ़ाया

सागर ने रस्ता छोड़ा, परबत ने सीस झुकाया

फ़ौलादी हैं सीने अपने, फ़ौलादी हैं बाहें

हम चाहें तो चट्टानों में पैदा कर दे राहें।

साथी हाथ बढ़ाना।

2. ‘सागर ने रस्ता छोड़ा, परबत ने शीश झुकाया’- साहिर ने ऐसा क्यों कहा है? लिखो।

उत्तर:- कवि ने ऐसा इसलिए कहा है क्योंकि मेहनती और साहसी लोग जब एकसाथ मिलकर काम करते हैं, तब बड़ी-बड़ी मुश्किलें भी चुटकी में हल हो जाती हैं। मेहनत और लगन से हर असंभव काम संभव हो सकता है। ऐसे मेहनती लोगों के एक साथ आने से ही विशालकाय समुद्र पर पुल बनाकर रास्ता निकाल लिया गया, बड़े-बड़े पर्वतों को काट दिया गया, मनुष्य धरती से चांद पर पहुंच गया और हर असंभव कार्य संभव हो गया।




3. गीत में सीने और बांहों को फौलादी क्यों कहा गया है?

उत्तर:- गीत में सीने और बाहों को फौलादी इसलिए कहा गया है क्योंकि मेहनती और साहसी लोग अपने दृढ़ संकल्प और इच्छाशक्ति के बल पर, अपनी मजबूत बाहों से कठिन से कठिन काम को भी कर सकते हैं। प्रस्तुत पंक्तियों में कवि ने ‘फौलादी’ शब्द का प्रयोग करते हुए मनुष्य की असीम क्षमताओं को दर्शाया है। अगर मनुष्य के इरादे मजबूत हो, तो वह अपनी ताकत के बल पर बड़े से बड़े पहाड़ को गिरा सकता है, विशालकाय समुद्र के ऊपर भी रास्ता बना सकता है और हर असंभव काम को संभव कर सकता है।

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 7 – गीत से आगे

1. अपने आसपास तुम किसे ‘साथी’ मानते हो और क्यों? इससे मिलते-जुलते कुछ और शब्द खोजकर लिखो।

उत्तर:- हमारे आसपास मौजूद सभी लोग जैसे हमारे माता-पिता भाई-बहन सहपाठी दोस्त अध्यापक पड़ोसी हमारे घर काम करने वाले आदि हमारे साथी हैं, क्योंकि ये सभी लोग हमारी किसी-ना-किसी तरीके से हमारी मदद करते हैं। इन सभी लोगों का हमारे जीवन में कुछ-न-कुछ योगदान रहता है।

साथी से मिलते-जुलते कुछ शब्द हैं- दोस्त, मित्र, साझीदार, सहायक, सहवासी, सहपाठी, सहचर, आदि।

2. ‘अपना दुख भी एक है साथी, अपना सुख भी एक’

कक्षा, मोहल्ले और गांव/शहर के किस-किस तरह के साथियों के बीच तुम्हें इस वाक्य की सच्चाई महसूस होती है और कैसे?

उत्तर:- हम इस वाक्य की सच्चाई अपने सहपाठियों के बीच महसूस करते हैं, क्योंकि उन्हें भी हमारी तरह ही अच्छे अंक पाने के लिए और शिक्षा के माध्यम से कुछ अच्छा कर दिखाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है, अपना सुख-चैन व नींद का त्याग करना पड़ता है और अन्य दुःख-सुख सहने पड़ते हैं। इस वाक्य की सच्चाई हम ग़रीब मजदूरों को देखकर भी महसूस करते हैं, क्योंकि उन सभी को अपनी व अपने परिवार की दो वक्त की रोटी के लिए दिन-रात मेहनत करनी पड़ती है। इसी प्रकार मध्यम वर्ग के सभी परिवार भी एक-दूसरे के साथी हैं, क्योंकि उन सभी को अपना जीवन काटने के लिए रोज़ कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और अपना जीवन यापन करने के लिए भाग-दौड़ करनी पड़ती है।




3. इस गीत को तुम किसी माहौल में गुनगुना सकते हो?

उत्तर:- वैसे तो हम यह गीत किसी भी माहौल में गुनगुना सकते हैं लेकिन आमतौर पर इस गीत को हम विद्यालय में स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस या किसी और समारोह के आयोजन के समय गाना चाहेंगे, क्योंकि यह गीत एकता और संगठन की शक्ति का वर्णन करता है। इस गीत को विद्यालय के वार्षिक खेल समारोह के विशेष अवसर पर भी गाया जा सकता है, इससे खेलों में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ेगा।

4. ‘एक अकेला थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना’-

(क). तुम अपने घर में इस बात का ध्यान कैसे रख सकते हो?
(ख). पापा के काम और मां के काम क्या-क्या हैं?
(ग). क्या वे एक-दूसरे का हाथ बंटाते हैं?

उत्तर:-

(क). आमतौर पर मां और पिताजी की घर के सभी काम करते हैं। हम अपने घर पर छोटे-मोटे कामों में मां-पिताजी की मदद करके इस बात का ध्यान रख सकते हैं।
(ख). पिताजी का काम होता है- दफ्तर जाना, पैसे कमाना और बाहर के सभी काम संभालना।
मां का काम होता है- घर संभालना, बच्चों के देखभाल करना, खाना बनाना साफ-सफाई का ध्यान रखना, आदि।
(ग). हां, मां-पिताजी इन सभी कामों में एक-दूसरे का हाथ बंटाते हैं।

5. यदि तुमने ‘नया दौर’ फ़िल्म देखी है तो बताओ कि यह गीत फ़िल्म में कहानी के किस मोड़ पर आता है? यदि तुमने फिल्म नहीं देखी तो फ़िल्म देखो और बताओ।

उत्तर:- ‘नया दौर’ फिल्म में यह गीत तब आता है, जब सभी लोग सड़क का निर्माण करने के लिए मिलजुल कर काम करते हैं। इस गीत के द्वारा उनमें जोश और उत्साह जगाया जाता है और एकसाथ मिलकर काम करने की प्रेरणा दी जाती है।

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 7 – कहावतों की दुनिया

1. अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता।

  • एक और एक मिलकर ग्यारह होते हैं।

(क). ऊपर लिखी कहावतों का अर्थ गीत की किन पंक्तियों से मिलता-जुलता है?
(ख). इन दोनों कहावतों का अर्थ कहावत-कोश में देखकर समझो और उनका वाक्य में प्रयोग करो।




उत्तर:-

(क).

  • एक अकेला थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना।
  • एक से एक मिले तो कतरा, बन जाता है दरिया

एक से एक मिले तो ज़र्रा, बन जाता है सेहरा

एक से एक मिले तो राई, बन जाती है परबत

एक से एक मिले तो इंसां, बस में कर ले किस्मत।

(ख).

  • अर्थ : अकेला व्यक्ति बहुत बड़ी मुश्किल से नहीं जीत सकता।

वाक्य : हम सबको मिलकर इस मुश्किल का सामना करना चाहिए क्योंकि एक अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता।

  • अर्थ : एकता में ही शक्ति होती है।

वाक्य : ऐसे कैसे शाम तक काम खत्म नहीं होगा? सब मिलकर काम करेंगे तो जरूर होगा, सुना नहीं एक और एक ग्यारह होते हैं।

2. नीचे हाथ से संबंधित कुछ मुहावरे दिए हैं। इनके अर्थ समझो और प्रत्येक मुहावरे से वाक्य बनाओ-

(क). हाथ को हाथ न सूझना

(ख). हाथ साफ करना

(ग). हाथ-पैर फूलना

(घ). हाथों-हाथ लेना

(ड़). हाथ लगना

उत्तर:-

(क). हाथ को हाथ न सूझना : घना अंधेरा होना

वाक्य : अमावस्या की रात और आकाश में घने बादल हाथ को हाथ नहीं सूझ रहा था।

(ख). हाथ साफ करना : चोरी करना

वाक्य : अंधेरे का फायदा उठाकर चोर ने शर्माजी पर हाथ साफ कर लिया।

(ग). हाथ-पैर फूलना : डर जाना

वाक्य : पुलिस को आते देख चोर के हाथ-पैर फूल गए।

(घ). हाथों-हाथ लेना : जल्दी से ले लेना

वाक्य : यह पुस्तक इतनी मशहूर है कि बाज़ार में आते ही लोग इसकी सारी प्रतियां हाथों-हाथ ले लेते हैं।

(ड़). हाथ लगना : अचानक मिल जाना

वाक्य : इतनी मेहनत करने के बाद यह नौकरी मेरे हाथ लगी है।

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 7 – भाषा की बात

1. हाथ और हस्त एक ही शब्द के दो रूप हैं। नीचे दिए शब्दों में हस्त और हाथ छिपे हैं। शब्दों को पढ़कर बताओ कि हाथों का इनमें क्या काम है-

हाथघड़ी, हथोड़ा, हस्तशिल्प, हस्तक्षेप, निहत्था, हथकंडा, हस्ताक्षर, हथकरघा।

उत्तर:-

  • हाथघड़ी : हाथ की कलाई पर पहनी जाने वाली घड़ी।
  • हथोड़ा : हाथ से पकड़ कर चलाया जाने वाला औजार।
  • हस्तशिल्प : हाथ से बनाई गई शिल्पकारी।
  • हस्तक्षेप : बीच बचाव करने के लिए दखल देना।
  • निहत्था : जिसके हाथ में कोई हथियार न हो।
  • हथकंडा : किसी कार्य को पूरा करने/कराने के लिए अपनाया गया अनुचित तरीका।
  • हस्ताक्षर : किसी कार्य के लिए स्वीकृति देने हेतु हाथ से लिखा गया अपना नाम।
  • हथकरघा : हाथ से बनाया जाने वाला छोटा-मोटा उद्योग।

2. इस गीत में परबत, सीस, रस्ता, इंसां, जैसे शब्दों के प्रयोग हुए हैं। इन शब्दों के प्रचलित रूप लिखो।

उत्तर:-

  • परबत : पर्वत, पहाड़।
  • सीस : शीश, सिर।
  • रस्ता : रास्ता, मार्ग।
  • इंसां : इंसान, मनुष्य।




3. ‘कल गैरों की खातिर की, आज अपनी खातिर करना’-

इस वाक्य को गीतकार इस प्रकार कहना चाहता है-

(तुमने) कल गैरों की खातिर (मेहमान) की, आज (तुम) अपनी खातिर करना।

इस वाक्य में ‘तुम’ कर्ता है जो गीत की पंक्ति में छंद बनाए रखने के लिए हटा दिया गया है। उपर्युक्त वाक्य में रेखांकित शब्द ‘अपनी’ का प्रयोग कर्ता ‘तुम’ के लिए हो रहा है, इसलिए यह सर्वनाम है। ऐसे सर्वनाम जो अपने आप के बारे में बताएं निजवाचक सर्वनाम कहलाते हैं। (निज का अर्थ ‘अपना’ होता है।) निजवाचक सर्वनाम के तीन प्रकार होते हैं जो नीचे दिए गए वाक्यों में रेखांकित है-

  • मैं अपने आप (या आप) घर चली जाऊंगी।
  • बब्बन अपना काम खुद करता है।
  • सुधा ने अपने लिए कुछ नहीं खरीदा।

अब तुम भी निजवाचक सर्वनाम के निम्नलिखित रूपों का वाक्य में प्रयोग करो-

अपने को, अपने से, अपना, अपने पर, अपने लिए, आपस में।

उत्तर:-

  • अपने को : अब अपने को यहां से चलना चाहिए।
  • अपने से : तुम मुझे अपने से लगते हो।
  • अपना : यहां पर अपना नाम लिखिए।
  • अपने पर : आप अपने पर काबू रखिए, हम कोई-न-कोई समाधान ढूंढ निकालेंगे।
  • अपने लिए : इस कार्य को भली-भांति पूरा करना अपने लिए बेहद ज़रूरी है।
  • आपस में : इसे तुम सब आपस में बांट लो।

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 7 – कुछ करने को

  • बातचीत करते समय हमारी बातें हाथ की हरकत से प्रभावशाली होकर दूसरे तक पहुंचती हैं। हाथ की हरकत से या हाथ के इशारे से भी कुछ कहा जा सकता है। नीचे लिखे हाथ के इशारे किन अवसरों पर प्रयोग होते हैं? लिखो।

‘क्यों’ पूछते हाथ
मना करते हाथ
समझाते हाथ
बुलाते हाथ
आरोप लगाते हाथ
चेतावनी देते हाथ
जोश दिखाते हाथ

उत्तर:-

  • ‘क्यों’ पूछते हाथ : कोई प्रश्न या किसी चीज का कारण पूछते समय
  • मना करते हाथ : किसी चीज़ या किसी बात के लिए मना करते समय
  • समझाते हाथ : किसी व्यक्ति को अपनी बात समझाते समय
  • बुलाते हाथ : अपने पास बुलाने के लिए
  • आरोप लगाते हाथ : उंगली का प्रयोग करते हुए किसी व्यक्ति को दोषी करार देते समय
  • चेतावनी देते हाथ : किसी चीज के लिए पूर्व में चेताते समय
  • जोश दिखाते हाथ : मुट्ठी बंद करके जोश जगाने के लिए
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

Leave a Comment