NCERT Solutions for Class 8 Hindi Durva Chapter 5 – Natak Mein Natak

CBSE NCERT Solutions for Class 8 Hindi Durva Chapter 5 – Natak Mein Natak (नाटक में नाटक)

TextbookHindi Class 8 Durva (दूर्वा भाग 3)
Chapter5 – Natak Mein Natak (नाटक में नाटक)
AuthorMangal Saxena (मंगल सक्सेना)

पाठ से

क ) बच्चों ने मंच की व्यवस्था किस प्रकार की ?

उतर – मोहल्ले  के बच्चों ने सार्वजनिक मैदान में फूल – पौधे लगाए थे वहीं मिल – जुलकर उन्होंने मंच की भी व्यवस्था कर दि।




ख ) पर्दे की आड़ में खड़े अन्य साथी मन ही मन राकेश की तुरंत बुद्धि की प्रंशसा क्यों कर रहे थे ?

उतर – पर्दे की आड़ में खड़े अन्य साथी मन ही मन राकेश की तुरंत बुद्धि की तारीफ कर रहे थे क्योंकि सबको लगा कि नाटक में नाटक की ही कमियां बताई गई क्योंकि राकेश ने बिगड़ते नाटक को इतनी अच्छाई से सभाल था ।

ग) नाटक के लिए रिहर्सल की जरुरत क्यों होती है ?

उतर – नाटक के लिए रिहर्सल की जरूरत होती है क्योंकि उसमे कई कलाकार होते है । सभी का साथ सही तालमेल से ही नाटक सही ढंग से हो पाता है। और ये तालमेल बिना रिहर्सल के नहीं हो सकता ।

CBSE NCERT Solutions for Class 8 Hindi Durva Chapter 5 – Natak Mein Natak – नाटक की बात

1.”जब नाटक में अभिनय करने वाले कलाकार भी नए हो, मंच पर आकर डर जाते हो, घबरा जाते हों और कुछ – कुछ बुद्धू भी हो,तब तो अधूरी तैयारी से खेलना ही नहीं चाहिए ।”

क ) ऊपर  के वाक्य में नाटक से जुड़े कई शब्द आए है। जैसे – अभिनय, कलाकार और मंच आदि। तुम पूरी कहानी को पढ़कर ऐसे हो और शब्दों की सूची बनाओ।

तुम इस सूची की तालिका इस प्रकार बना सकते हो –





CBSE NCERT Solutions for Class 8 Hindi Durva Chapter 5 – Natak Mein Natak – सोचो,ऐसा क्यों ?

नीचे लिखे वाक्य पढ़कर प्रश्नों के उतर दो।

राकेश को गुस्सा भी आ रहा था और रोना भी।”
(क) तुम्हारे विचार से राकेश को गुस्सा और रोना क्यों आ रहा होगा ?

उतर – राकेश को गुस्सा आ रहा था क्योंकि वो लोग ठीक से अभिनय नहीं कर रहे थे, और राकेश को रोना इसलिए आ रहा था क्योंकि उसकी मेहनत, तैयारी बेकार जा रही थी।

“राकेश मंच पर पहुंच गया। सब चुप हो गए,सकपका गए।”
(ख) तुम्हारे विचार से राकेश जब मंच पर पहुंचा, बाकी सब कलाकार क्यों चुप हो गए होंगे?

उतर – राकेश जब मंच पर पहुंचा बाकी सब कलाकार इसलिए चुप हो गए होंगे क्योंकि वो नाटक में किसी भी किरदार को निभा नहीं रहा था। तो फिर वो मंच पर क्यों आया ये सोचकर वो लोग चुप हो गए।

“दर्शक सब शांत थे, भौचक्के थे |
(ग) दर्शक भौचक्के क्यों हो गए थे?

उतर – राकेश के मंच पर आने से बाकी किरदार चुप हो गए थे, तो दर्शकों को लगा कि नाटक खराब हो गया पर राकेश ने नाटक को संभाल लिया तो दर्शक जो भचोक्के रह गए थे, तो उनको लगा कि नाटक में नाटक चल रहा है।

“मैंने कहा था न कि रिहर्सल में भी यह मानकर चलो कि दर्शक सामने ही बैठे हैं ।”
(घ) राकेश ने ऐसा क्यों कहा होगा ?

 उतर – राकेश ने ऐसा कहा क्योंकि एक तो वो अपने कलाकारों को समझा रहा था, दूसरा वो अचानक मंच पर आ गया था तो उसने इस तरीके से कहा की दर्शकों को लगे कि वो नाटक का ही हिस्सा है।

शब्दों का फेर

 जब संगीत की स्वर लहरी गूंजती है तो पशु पक्षी तक मुग्ध हो जाते है, शायर साहब । आप क्या समजते है संगीत को ?”
 इस संवाद को पदो और बताओ कि





 (क) कहानी में इसके बदले किसने, क्यों और क्या बोला ? तुम उसको लिखकर बताओ ।

 उतर – इसके बदले संगीतकार ने अपना संवाद भूलने और राकेश की बात ठीक से न सुनने पर कहा कि जब संगीत की स्वर लहरी गूंजती है तो सब पशु – पक्षी तक मुंह की खा जाते है, गाजर साहब । आप क्या समझते है हमे गाजर साहब।

(ख) कहानी में शायर के बदले गाजर कहने से क्या हुआ ? तुम भी अगर किसी शब्द के बदले किसी अन्य शब्द। कप्रयोग कर दो तो क्या होगा ?

उतर – कहानी में शायर के बदले गाजर कहने से जवाब भी उल्टा मिला । और अगर हम भी ऐसी कोई गलती करेगे तो हमे भी उल्टा जवाब मिलेगा ।

CBSE NCERT Solutions for Class 8 Hindi Durva Chapter 5 – Natak Mein Natak – तुम्हारा शीर्षक

इस कहानी का शीर्षक ‘ नाटक में नाटक ‘ है। कहानी में जो नाटक है तुम उसका शीर्षक बताओ ।

उतर – कहानी में जो नाटक है तो उसका शीर्षक हो सकता है – रिहर्सल की जरूरत ।

वाक्यों की बात –

नीचे दिए गए वाक्यों के अंत में उचित विराम – चिन्न लगाओ –

  • शायर साहब बोले उधर जाकर सुन ले न
  • सभी लोग हंसने लगे 
  • तुम नाटक में कौन-से पार्ट कर रहे हो
  • मोहन बोला अरे क्या हुआ तुम तो अपना संवाद भूल गए

उतर –

  • शायर साहब बोले उधर जाकर सुन ले न ।
  • सभी लोग हंसने लगे ।
  • तुम नाटक में कौन-से पार्ट कर रहे हो?
  • मोहन बोला ,”अरे! क्या हुआ तुम तो अपना संवाद भूल गए।”

NCERT Solutions for Class 8

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

Leave a Comment