वर्तनी तथा वाक्य संबंधी अशुद्धियाँ

आज हम वर्तनी सम्बन्धी अशुद्धियाँ और वाक्य संबंधी अशुद्धियाँ के बारे में पड़ेगे |

वर्तनी – लिपि के चिह्नों को व्याकरण के नियमों के अनुसार क्रम से लिखना ‘वर्तनी’ कहलाता है।

वर्तनी संबंधी अशुद्धियाँ

स्वर संबंधी अशुद्धियाँ
अनुस्वार- अनुनासिक संबंधी अशुद्धियाँ
विसर्ग संबंधी अशुद्धियाँ
अमानक रूप संबंधी अशुद्धियाँ




स्वर संबंधी अशुद्धियाँ –

अशुद्ध  – शुद्ध
अकाश – आकाश
कवी – कवि
अत्याधिक – अत्यधिक

अनुस्वार – अनुनासिक संबंधी अशुद्धियाँ –

अशुद्ध – शुद्ध
अंगूठी – अँगूठी
अँबा – अंबा
गँगा – गंगा
अँगूर – अंगूर

विसर्ग संबंधी अशुद्धियाँ

अशुद्ध  – शुद्ध
प्रात – प्रातः
निसंदेह – निः संदेह

व्यंजन संबंधी अशुद्धियाँ

अशुद्ध – शुद्ध
पड़ाई – पढ़ाई
इखटठा – इकट्ठा
लछमण – लक्ष्मण

अमानक रूप संबंधी अशुद्धियाँ

अशुद्ध – शुद्ध
विद्वान – विद् वान
द्वितीय – द् वितीय
बुद्धि – बुद् धि




वाक्य संबंधी अशुद्धियाँ

लिंग संबंधी अशुद्धियाँ

अशुद्ध वाक्य – बिजली चला गया ।
शुद्ध वाक्य – बिजली चली गयी।

अशुद्ध वाक्य- मुझे वर्षा ऋतु अच्छा नहीं लगता।
शुद्ध वाक्य- मुझे वर्षा ऋतु अच्छी नहीं लगती।

वचन संबंधी अशुद्धियाँ-

अशुद्ध वाक्य- विवेक के दादा जी का प्राण निकल गया।
शुद्ध वाक्य- विवेक के दादा जी के प्राण निकल गए।

अशुद्ध वाक्य- राधा का आँसू  देखकर मेरा मन उदास हो गया।
शुद्ध वाक्य- राधा के आंसू देख कर मेरा मन उदास हो गया।

कारक संबंधी अशुद्धियाँ-

अशुद्ध वाक्य- मैं ईश्वर की श्रद्धा करती हूं।
शुद्ध वाक्य- मैं ईश्वर में श्रद्धा रखती हूं।

अशुद्ध वाक्य- अखबार पर क्या छपा है?
शुद्ध वाक्य- अखबार में क्या छपा है?

सर्वनाम संबंधी अशुद्धियाँ-

अशुद्ध वाक्य- मैंने जयपुर जाना है।
शुद्ध वाक्य- मुझे जयपुर जाना है ।

अशुद्ध वाक्य- आप अपून को नहीं जानते।
शुद्ध वाक्य- आप मुझे नहीं जानते।




विशेषण संबंधी अशुद्धियाँ-

अशुद्ध वाक्य- ये नारियां गुणवान है।
शुद्ध वाक्य- ये नारियाँ गुणवती है।

अशुद्ध वाक्य- ये सब बच्चे अच्छा हैं।
शुद्ध वाक्य- ये सब बच्चे अच्छे हैं ।

क्रिया संबंधी अशुद्धियाँ-

अशुद्ध वाक्य- क्या आप भोजन खाएंगे ?
शुद्ध वाक्य- क्या आप भोजन करेंगे ?

अशुद्ध वाक्य- आप यहाँ से जाओ ।
शुद्ध वाक्य- आप यहाँ से जाइए।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

1 thought on “वर्तनी तथा वाक्य संबंधी अशुद्धियाँ”

Leave a Comment