NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 17 – भदंत आनंद कौसल्यायन

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 17 – भदंत आनंद कौसल्यायन (Bhadant Anand Kausalyan) – संस्कृति (Sanskriti)

गद्य खंड

प्रश्न-अभ्यास

1. लेखक की दृष्टि मे ‘सभ्यता’ और ‘संस्कृति’ की सही समझ अब तक क्यो नहीं बन पाई है?

उत्तर- लेखक की दृष्टि से सभ्यता और संस्कृति का प्रयोग बहुत ही मनमाने ढंग से हो २हा है। इन शब्दो के साथ अनेको विशेषण जोड़ दिए जाते है जैसे- भौतिक- सभ्यता एवं आध्यात्मिक सभ्यता और इन विशेषणों के कारण अनेक अर्थों मे इन शब्दो को बाँट दिया जाता है।





2. आग की खोज एक बहुत बड़ी खोज क्यो मानी जाती है? इस खोज के पीछे रही प्रेरणा के मुख्य स्त्रोत क्या रहे होंगे ?

उत्तर-  आग की खोज एक बहुत बड़ी खोज इसलिए मानी जाती है क्योकि इसी कारण आने वाली युगों की दशा पलट गई। रोशनी की जरुरत, कच्चे माँस का स्वाद अच्छा न लगाना, आदि कारणो से आग की खोज की गई होगी।

3. वास्तविक अर्थों मे ‘संस्कृत व्यक्ति’ किसे कहा जा सकता है?

उत्तर- वास्तविक अर्थों मे ‘संस्कृत व्यक्ति’ वो है जो अपनी बुद्धि एवं योग्यता के बल पर कुछ नवीन कर सके।

4. न्यूटन को संस्कृत मानव कहने के पीछे कौन से तर्क दिए गए हैं? न्यूटन द्वारा प्रतिपादित सिध्दांतो एवं ज्ञान की कोई दूसरी बारीकियों को जानने वाले लोग भी न्यूटन की तरह संस्कृत नही कहला सकते, क्यों?

उत्तर-  न्यूटन ने अपनी बुद्धि एवं योग्यता के बल पर गुरत्वाकर्षण की खोज की, जिसका पहले किसी को ज्ञान नही था इसलिए उन्हे एक संस्कृत मानव माना गया। आज के लोग न्यूटन की ही बताई बातो पर गहराई से चिंतन कर उसके नए पहलू का ज्ञान दे रहे है  इसलिए वे न्यूटन से अधिक नहीं है।

5. किन महत्तवपूर्ण आवश्यकताओ की पूर्ति के लिए सूई-धागे का आविष्कार हुआ होगा?

उत्तर- शरीर को ठंड व गर्म से बचाने के लिए तथा तन को ढककर एक  सभ्य मानव बनने के लिए सूई- धागे का आविष्कार हुआ होगा।

6. “मानव संस्कृति एक अविभाज्य वस्तु है।” किन्ही दो प्रसंगो का उल्लेख कीजिए जब-

(क) मानव संस्कृति को विभाजित करने की चेष्टाएँ की गई।
(ख) जब मानव संस्कृति ने अपने एक होने का प्रमाण दिया।

उत्तर- (क) वर्ण एवं धर्म के नाम पर।

(ख)जब सिदार्थ ने अपना घर सिर्फ मानव कल्याण के लिए छोड दिया था तथा कार्ल मार्क्स ने संसार के मजदूरो को सुखी देखने के लिए अपना सारा जीवन पीड़ा मे बिता दिया था।





7. आशय स्पष्ट कीजिए।

मानव की जो योग्यता उससे आत्म-विनाश के साधनों का आविष्कार कराती है, हम उसे उसकी संस्कृति कहे या असंस्कृति ?

उत्तर- मनुष्य ने अपनी सुरक्षा के लिए कई साधन बनाए है। जब यह साधान आत्मरक्षा के लिए प्रयोग किए जाते है तो उसे संस्कृति कहेंगे परंतु जब यदि साधन किसी को हानि पहुँचाने के लिए प्रयोग होंगे तो उसे हम असंस्कृति कहेंगे।

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 17 – रचना और अभिव्यक्ति

8. लेखक ने अपने दृष्टिकोण से सभ्यता और संस्कृति की एक परिभाषा दी है। आप सभ्यता और संस्कृति के बारे मे क्या सोचते है, लिखिए।

उत्तर- संस्कृति जीवन का चिंतन और कलात्मक सृजन है , जो जीवन को समृद्ध बनाती है। सभ्यता, संस्कृति का ही विकसित भाग है।

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 17 – भाषा-अध्ययन

9. निम्नलिखित सामासिक पदों का विग्रह करके समास का भेद भी लिखिए।

उत्तर-

गलत-सलत – गलत और सलत (द्वंद समास)
महामानव- महान है जो मानव (कर्म धारय समास)
हिंदू-मुसलिम – हिंदू और मुसलिम (द्वंद समास)
सप्तर्षि- सात ऋषियों का समूह (द्विगु समास)
आत्म-विनाश- आत्मा का विनाश (तत्पुरुष समास)
पददलित – पद से दलित (तत्पुरुष समास)
यथोचित – जो उचित हो (अव्ययीभाव समास)
सुलोचना – सुंदर लोचन है जिसके (कर्मधारय समास)

NCERT Solutions For Class 10 – Click here

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

Leave a Comment