Pratyay in Hindi Class 8

Pratyay in Hindi Class 8 – प्रत्यय की परिभाषा, प्रत्यय के प्रकार – कृत प्रत्यय और उसके भेद (Krit Pratyay or Krit Pratyay ke bhed), तद्धित प्रत्यय और उसके भेद (Tadhit Pratyay or Tadhit Pratyay ke bhed)

प्रत्यय की परिभाषा  वे शब्दांश जो किसी शब्द या धातु के पीछे लगकर नया शब्द बना देते हैं वे प्रत्यय कहलाते हैं |

जैसे →
दूध = दूध + वाला = दूधवाला
पान = पान + वाला = पानवाला




प्रत्यय के प्रकार 

(1)  कृत प्रत्यय ( Krit Pratyay )
(2)  तद्धित प्रत्यय ( Tadhit Pratyay )

कृत प्रत्यय (Krit Pratyay)

जो शब्दांश क्रिया धातु के अंत में लगकर नए शब्द की रचना करते हैं, उन्हें कृत प्रत्यय कहते हैं |
→   कृत प्रत्यय से बनने वाले शब्दों को कृदंत (कृत + अंत) कहते हैं |

जैसे
लिख + आवट = लिखावट
पालन + हार = पालनहार

कृत प्रत्यय के भेद ( Krit Pratyay ke bhed )

(1)  कृतवाचक कृदंत प्रत्यय
(2)  कर्मवाचक कृदंत प्रत्यय
(3)  करणवाचक कृदंत प्रत्यय
(4)  भाववाचक कृदंत प्रत्यय
(5)  क्रियावाचक कृदंत प्रत्यय

(1)  कृतवाचक कृदंत प्रत्यय

जैसे
चल + अक = चालक
लड़ + आकू = लड़ाकू
भूल + अक्कड़ = भुलक्कड़

(2)  कर्मवाचक कृदंत प्रत्यय

ओढ़ + ना = ओढ़ना
बिछा + औना = बिछौना
चल + नी = चलनी

(3) करणवाचक कृदंत प्रत्यय

जैसे
बेल + अन = बेलन
झूल + = झूला
लेख + नी = लेखनी

(4)  भाववाचक कृदंत प्रत्यय

जैसे
थक + आवट = थकावट
पूज् + आपा = पुजापा
लड़ + आई = लड़ाई





(5)  क्रियावाचक कृदंत प्रत्यय

जैसे
खेल + ना = खेलना
बोल + ता = बोलता
खा + कर = खाकर

तद्धित प्रत्यय (Tadhit Pratyay)

जो प्रत्यय संज्ञा, सर्वनाम या विशेषण के अंत में जुड़कर नए शब्द का निर्माण करते हैं, उन्हें तद्धित प्रत्यय कहते हैं |
→   तद्धित प्रत्यय से बनने वाले शब्दों को तद्धितांत शब्द कहते हैं |

जैसे
मनुष्य + त्व = मनुष्यत्व
चिकना + आहट = चिकनाहट




तद्धित प्रत्यय के भेद ( Tadhit Pratyay ke bhed )

  1. कर्तृवाचक तद्धित
  2. भाववाचक तद्धित
  3. ऊनवाचक तद्धित
  4. संबंधवाचक तद्धित
  5. विशेषणवाचक तद्धित

1. कर्तृवाचक तद्धित प्रत्यय

जैसे →
लोहा + आर = लुहार
पत्र + कार = पत्रकार
लकड़ी + हारा = लकड़हारा

2. भाववाचक तद्धित प्रत्यय

बूढ़ा + आपा = बुढ़ापा
गरम + = गरमी
चतुर + आई = चतुराई

3. ऊनवाचक तद्धित प्रत्यय

थाल + = थाली
डिब्बा + इया = डिबिया
साँप + ओला = सँपोला

4. संबंधवाचक तद्धित प्रत्यय

जैसे
चाचा + एरा = चचेरा
ससुर + आल = ससुराल
बहन + ओई = बहनोई

5. विशेषणवाचक तद्धित प्रत्यय

जैसे
लोभ + = लोभी
रस + ईला = रसीला
बुद्धि + मान = बुद्धिमान





दो प्रत्ययों का एक साथ प्रयोग →

भारतीयता = भारत + ईय + ता = भारतीयता
बनावटी = बन + आवट + ई = बनावटी
प्रांतीयता = प्रांत + ईय + ता = प्रांतीयता

उपसर्ग और प्रत्यय का एक साथ प्रयोग

अभिमानी → अभि + मान + ई = अभिमानी
सफलता → स + फल + ता = सफलता

FAQs on Pratyay in Hindi Class 8

प्र.1. ‘दिखावटी’ शब्द में प्रत्यय तथा मूल शब्द बताइए –     

उत्तर = मूल शब्द = देख
प्रत्यय = आवट + ई

प्र.2.  ‘थकान शब्द में प्रत्यय बताइए –     

उत्तर = प्रत्यय = ‘आन’

प्र.3.  ‘दिखावा’ शब्द में मूल शब्द बताइए –               

उत्तर = मूल शब्द = दिख

प्र.4. ‘समझौता’ शब्द में मूल शब्द तथा प्रत्यय बताइए –        

उत्तर = मूल शब्द = समझ
प्रत्यय = औता

प्र.5.  ‘मनुष्यत्व’ शब्द में मूल शब्द तथा प्रत्यय बताइए –  

उत्तर = मूल शब्द = मनुष्य
प्रत्यय = त्व

प्र.6. ‘पंडिताई’ शब्द में मूल शब्द बताइए –

उत्तर = पंडित

प्र.7.  ‘इया’ प्रत्यय से दों शब्द बनाइए –     

उत्तर = प्रत्यय – ‘इया’ = मुखिया, दुखिया

प्र.8.  ‘ईन’ प्रत्यय से दो शब्द बनाइए –          

उत्तर = नमकीन, रंगीन

CBSE Hindi Vyakaran Class 8 Notes

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

Leave a Comment