Pad Parichay in Hindi

पद परिचय (Pad Parichay in Hindi) – वाक्य में प्रयुक्त किसी एक निर्दिष्ट पद अथवा सभी पदों का व्याकरण की दृष्टि से परिचय देना पद परिचय कहलाता है |

जैसे →  राम ने रावण को मारा

राम ने – व्यक्तिवाचक संज्ञा, पुल्लिंग, एकवचन, कर्ता कारक, ‘ने’ परसर्ग सहित, ‘मारा’ क्रिया का कर्ता |
रावण को – व्यक्तिवाचक संज्ञा, पुल्लिंग, एकवचन, कर्म कारक, ‘को’ परसर्ग सहित, ‘मारा’ सकर्मक क्रिया का कर्म |
तीर से – जातिवाचक संज्ञा, पुल्लिंग, एकवचन, करण कारक, ‘से’ परसर्ग सहित, ‘मारा’ सकर्मक क्रिया का साधन |
मारा – सकर्मक क्रिया, सामान्य भूतकाल, पुल्लिंग, एकवचन, अन्य पुरुष, कर्तृवाच्य और ‘राम’ इसका कर्ता |




पद परिचय ( Pad Parichay in Hindi)

वाक्य में प्रयुक्त किसी एक निर्दिष्ट पद अथवा सभी पदों का व्याकरण की दृष्टि से परिचय देना पद – परिचय कहलाता है |

पद परिचय के आवश्यक अंग

  1. संज्ञा भेद, लिंग, वचन, कारक, क्रिया, अन्य शब्दों से संबंध |
  2. सर्वनाम भेद, पुरुष, लिंग, वचन, कारक, क्रिया या अन्य शब्दों से संबंध |
  3. विशेषण भेद, विशेषण, लिंग, वचन, अवस्था |
  4. क्रिया भेद, (सकर्मक या अकर्मक), वाच्य, काल, लिंग, वचन, कर्ता, कर्म आदि से संबंध |
  5. क्रिया – विशेषण भेद, क्रिया विशेष्य संबंध
  6. संबंधबोधक भेद, संबंधित शब्द
  7. समुच्चयबोधक भेद, योजित शब्द, वाक्यांश या वाक्य
  8. विस्मयादिबोधक भेद का कौन – सा भाव

1.राधिका सुंदर चित्र बनाती है |

राधिका – व्यक्तिवाचक संज्ञा, एकवचन, स्त्रीलिंग, कर्ता कारक, ‘बनाना’ क्रिया की कर्ता |
सुंदर – गुणवाचक विशेषण, मूलावस्था, पुल्लिंग, एकवचन, विशेष्य – ‘चित्र’ |
चित्र – जातिवाचक संज्ञा, एकवचन, पुल्लिंग, कर्म कारक, ‘बनाना’ क्रिया का कर्म |
बनाती है – सकर्मक क्रिया, स्त्रीलिंग, एकवचन, अन्य पुरुष, ‘बन’ धातु, वर्तमानकाल, कर्तृवाच्य क्रिया की कर्ता ‘राधिका’ व कर्म ‘चित्र’|

2. हम धीरे – धीरे चलते हैं ?

हम – पुरुषवाचक सर्वनाम, उत्तम पुरुष, पुल्लिंग, बहुवचन, कर्ता कारक
धीरे-धीरे – रीतिवाचक विशेषण, चलते हैं क्रिया की विशेषता बता रहे हैं |
चलते हैं – अकर्मक क्रिया, कर्तृवाच्य पुल्लिंग, बहुवचन, सामान्य वर्तमानकाल




Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

Leave a Comment