Upsarg in Hindi

उपसर्ग( Upsarg in Hindi ) → वे शब्दांश जो शब्दों के आगे जुड़कर उनके अर्थ में परिवर्तन ला देते हैं। उसपर्ग कहलाते हैं।

जैसे –
सु  + पुत्र = सुपुत्र
कु + पुत्र = कुपुत्र




उपसर्ग (Upsarg in Hindi)

उपसर्ग के प्रकार – (Upsarg ke Prakar)

(1) संस्कृत के उपसर्ग (Sanskrit k Upsarg)
(2) उर्दू के उपसर्ग (Urdu k Upsarg)
(3) हिंदी के उपसर्ग (Hindi k Upsarg)
(4) उपसर्ग की तरह प्रयोग किए जाने वाले संस्कृत के अव्यय

संस्कृत के उपसर्ग – (Sanskrit ke Upsarg)

उपसर्ग
प्र    =     प्र +बल = प्रबल
प्र    =     प्र + हार = प्रहार
उप   =   उप +मंत्री = उपमंत्री
उप   =   उप + हार = उपहार
अप  =   अप + शब्द = अपशब्द
अप  =    अप + कीर्ति = अपकीर्ति

हिंदी के उपसर्ग – (Hindi k Upsarg)

‘अ’  = अ + नाथ = अनाथ
अ   = अ +टल = अटल
‘कु’ = कु + कर्म = कुकर्म
कु = कु +संग = कुसंग

उर्दू के उपसर्ग – (Urdu k Upsarg)

ला = ला + इलाज = लाइलाज
ला = ला + परवाह = लापरवाह
ना = ना +काबिल = नाकाबिल
ना = ना + काम = नाकाम




उपसर्ग की तरह प्रयोग किए जाने वाले ‘संस्कृत के अव्यय’

स्व → स्व +देश = स्वदेश
स्व = स्व +धर्म = स्वधर्म
तिरस् = तिरस् +कार = तिरस्कार
तिरस् = तिरस् + कृत = तिरस्कृत

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on email

1 thought on “Upsarg in Hindi”

Leave a Comment